1. This site uses cookies. By continuing to use this site, you are agreeing to our use of cookies. Learn More.

Your Internet in Danger, Putting Traps Facebook! - Net Neutrality Oppose

Discussion in 'Stock Market Discussions' started by Capitalstars King, Dec 26, 2015.

  1. Capitalstars King

    Capitalstars King New Member

    Joined:
    Sep 11, 2015
    Messages:
    89
    Likes Received:
    1
    Gender:
    Female
    Location:
    Vijay Nagar, INDORE – 452010 M. P. India
    Your Internet in Danger, Putting Traps Facebook!
    आपका इंटरनेट खतरे में, फेसबुक डाल रहा जाल!

    [​IMG]

    Important Headlines :-

    • What is the Facebook Free Basics? - क्या है नेट नुट्रिलिटी ?
    • In the name of internet hoax? - इंटरनेट के नाम पर झांसा ?
    • Net Neutrality large Discussion - नेट नुट्रिलिटी पर बड़ी बेहेस
    • Your Internet is in danger - आपका इंटरनेट है खतरे में
    • Be the escape from Facebook - फेसबुक के जाल से बच के रहिए
    • You bluffing Facebook - आपको झांसा दे रहा है फेसबुक
    • Facebook is not Free Free Basics - फेसबुक का फ्री बेसिक्स नहीं है फ्री
    • Free take away your freedom to Basics - फ्री बेसिक्स छीन न ले आपकी आजादी
    • Net Neutrality messing Free Basics - नेट नुट्रिलिटी से खिलवाड़ है फ्री बेसिक्स
    • Facebook's network to survive - फेसबुक के जाल से बच के रहना
    Net Neutrality what?
    • Every website on the Internet to see freedom
    • For every website, including freedom of Speed
    In April this year, has tried Internet throttling. CNBC-voice then took the campaign to liberate the Internet. After the efforts of millions of voice multitude wrote to TRAI, Telecom Department and the Parliamentary Committee made the strategy committee.

    इस साल अप्रैल में इंटरनेट का गला घोटने की कोशिश की गयी। तब सीएनबीसी-आवाज़ ने मुहिम छेड़ी इंटरनेट को आजाद रखने के लिए। आवाज़ की कोशिशों के बाद लाखों की तादाद में लोगों ने ट्राई को चिट्ठी लिखी, टेलीकॉम विभाग की कमेटी बनी और पार्लियामेंट्री स्ट्रैटजी कमेटी बनाई गयी।

    Now another attempt is being made to cut the Internet, in part to serve. If the name Free Basic. So these days, as soon as you are opening up the two pages of the morning paper to see the full page ad. Facebook you support your demand for the basics is free. But how free is the free Basic, the net loss to be Neutrality. It is going to expose here.

    अब एक और प्रयास किया जा रहा है इंटरनेट को काट कर, हिस्सों में परोसने का। इसका नाम हैं फ्री बेसिक। इसीलिए ही इन दिनों जैसे ही आप सुबह अखबार खोल रहे हैं आपको दो पन्नों का फुल पेज विज्ञापन देखने को मिल रहा है। इसमें फेसबुक आपसे अपने फ्री बेसिक्स के लिए समर्थन मांग रहा है। लेकिन ये फ्री बेसिक कितना फ्री है, इससे नेट न्यूट्रैलिटी को कितना नुकसान होगा। इसका आज यहां पर्दाफाश करने जा रहे है।

    But before the start of the debate is also important that you tell what the hell is Free Basics. Free Basics Facebook is a platform where you have internet on your phone without data plan will allow. But the free Internet as you will see just Facebook and its partner sites. That means your Internet just a few sites Facebook and Facebook, who have chosen for you. The matter is directly against Net Neutrality or simply the pretext of free every site on the Internet to see your freedom is being taken away.

    लेकिन इससे पहले की बहस शुरु करें आपको ये बताना भी जरूरी है कि आखिर ये फ्री बेसिक्स है क्या। फ्री बेसिक्स फेसबुक का एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जिसमें आपको अपने फोन पर डेटा प्लान लिए बिना भी इंटरनेट की सुविधा मिलेगी। लेकिन इस फ्री के इंटरनेट में आपको सिर्फ फेसबुक और उसकी पार्टनर साइट्स ही देखने को मिलेगी। यानि आपके लिए इंटरनेट का मतलब है सिर्फ फेसबुक और ऐसी चुनिंदा साइट्स जिन्हे फेसबुक ने आपके लिए चुना है। ये बात सीधे सीधे नेट न्यूट्रलिटी के खिलाफ है या सरल शब्दों में फ्री का झांसा देकर इंटरनेट पर मौजूद हर साइट को देखने की आपकी आजादी को छीना जा रहा है।

    Here to tell you this thing is only for customers Free Basic Reliance Communications and TRAI heavily objected to this, followed by Reliance Communications has put it on hold and now Facebook is the fear that Free Basics thereby not be turned off in India.

    यहां आपको ये बात भी बता दें कि फ्री बेसिक सिर्फ रिलायंस कम्यूनिकेशन के ग्राहकों के लिए ही है और ट्राई ने इस पर भारी आपत्ति उठाई है, जिसके बाद रिलायंस कम्यूनिकेशन ने इसे होल्ड पर डाल दिया है और अब फेसबुक को यही डर सता रहा है कि कहीं उसके फ्री बेसिक्स को भारत में बंद ही न कर दिया जाए।

    Free Basics RIGHT to say Facebook is free. In the Internet without being told to Facebook. Free Basics Facebook 100 partners whose sites will be available for free. Please tell the name of the first Free Basics was internet.org. Facebook allegedly Free Basic Net Neutrality is just limited to Facebook. Free Basics Lasks through the monopoly is being tried.

    कहने को फ्री बेसिक्स फेसबुक का फ्री फंडा है। जिसमें में बिना इंटरनेट के फेसबुक देने की बात कही जा रही है। फ्री बेसिक्स में फेसबुक के 100 पार्टनर हैं जिनकी साइटें फ्री में उपलब्ध होंगी। बता दें कि पहले फ्री बेसिक्स का नाम internet.org था। फेसबुक पर आरोप है कि फ्री बेसिक्स नेट न्यूट्रलिटी सिर्फ फेसबुक तक सीमित है। फ्री बेसिक्स के चलते लासक्स के जरिए एकाधिकार बनाने की कोशिश की जा रही है।

    Facebook argues that Free Basics will not charge for the service provider. Free Basics of the partner will not be any charge. Free Basics much people try to connect to the Internet. Internet Service at 90 per cent full in 30 days shifted. Facebook claims that 86 per cent are in favor of free Basics. 91 percent believe Graduate Free basics right. Please tell Facebook claims are based on a survey of 3,000 people.

    फेसबुक की दलील है कि फ्री बेसिक्स के लिए सर्विस प्रोवाइडर से चार्ज नहीं लिया जाएगा। फ्री बेसिक्स के लिए पार्टनर से भी कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा। फ्री बेसिक्स ज्यादा लोगों को इंटरनेट से जोड़ने की कोशिश है। 90 फीसदी लोग 30 दिन में फुल इंटरनेट सर्विस पर शिफ्ट हुए हैं। फेसबुक का दावा है कि 86 फीसदी लोग फ्री बेसिक्स के समर्थन में हैं। 91 फीसदी ग्रेजुएट फ्री बेसिक्स को सही मानते हैं। बता दें कि फेसबुक ने 3000 लोगों के सर्वे के आधार पर ये दावे किए हैं।

    Net Neutrality every website on the Internet to look for is the freedom which every website is a wonderful freedom of speed. Let me tell you that there have been several controversies about Net Neutrality. After protests Ayrteln Airtel had zero off. Flipkart was free to Airtel at zero. Net Neutrality Similar protests took place in the Facebook internet.org.

    नेट न्यूट्रलिटी इंटरनेट पर मौजूद हर बेवसाइट देखने की आजादी है जिसमें हर वेबसाइट के लिए एक जैसी स्पीड की आजादी मिलती है। आपको बता दें कि नेट न्यूट्रलिटी को लेकर कई विवाद हुए हैं। विरोध के बाद एयरटेलन ने एयरटेल जीरो बंद किया था। एयरटेल जीरो में फ्लिपकार्ट को फ्री दिया गया था। इसी तरह नेट न्यूट्रलिटी को लेकर फेसबुक के internet.org का भारी विरोध हुआ था।
    Read more about:
    Stock Market News Updates & Tips
    Financial Advisory Company in Indore, Stock Advisory Company in Indore, Commodity Market Tips, MCX Copper Tips, MCX Tips, Bullion Tips, Accurate Silver Tips, Crude oil tips, Accurate Gold Tips, Bullion Market Tips




    www.capitalstars.com | T:+91-731-6790000, 6669900
    CapitalStars FinancialResearchFinancial Advisory Services

    [​IMG]
     
Loading...

Share This Page